Which Graha Devta to Worship?

The following deities should be worshipped to obtain auspicious results when planets are conjoined in Birth Chart.

सूर्य और चन्द्र पार्वती

सूर्य और मंगल भगवान राम
सूर्य और बुध इंद्र को माना जाता है
सूर्य और गुरु विश्वामित्र
सूर्य और शुक्र विष्णु लक्ष्मी
सूर्य और शनि गायत्री को माना जाता है
सूर्य और राहू राजा बलि
सूर्य और केतु अश्विनी कुमार


चन्द्र मंगल दक्षिण मुखी शिवजी -माता भद्रकाली
चन्द्र और बुध सरस्वती को माना जाता है
चन्द्र और गुरु पवन देवता
चन्द्र और शुक्र गाय
चन्द्र और शनि अर्धनारीश्वर को माना जाता है
चन्द्र और राहू स्थान देवता
चन्द्र और केतु पार्वती सहित गणेश जी


मंगल और बुध गरुण पर सवार विष्णु
मंगल और गुरु तारा
मंगल और शुक्र गरुण पर सवार गायत्री
मंगल और शनि ज्वालामुखी देवी मंगल और राहू प्रेतात्मक शक्तियों
मंगल केतु काली और शाकिनी आदि


बुध और गुरु वैदिक पूजा को माना जाता है
बुध और शुक्र कुलदेवी की पूजा
बुध और शनि कार्तिकेय
बुध और राहू सरस्वती
बुध और केतु कार्तिकेय को पूजा जाता है.


गुरु और शुक्र इन्द्रानी की पूजा की जाती है
गुरु और शनि अमरनाथ को पूजा जाता
गुरु और राहू केदार नाथ
गुरु केतु बद्रीनाथ को पूजा जाता है.


शुक्र और शनि भोमिया जी की पूजा
शुक्र और राहू गज लक्ष्मी
शुक्र और केतु, गणेश जी के साथ लक्ष्मी
शनि राहू भैरो
शनि केतु रूद्र की पूजा

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *